Advertisement

जिस राठोड वंश ने मीरा को कुलक्षिणी कहा उसे अब मीरा के नाम से जाना जाता है

"अजीब बात है जिस राठोड वंश ने अपनी आन बान के लिए विधवा मीरा बाई को कष्ट दिए और मारने का प्रयास किया, आज उसी के नाम से राठोड़ो की शान है और मर गए मारने वाले. "

Advertisement
अजीब बात है जिस राठोड वंश ने अपनी आन बान के लिए विधवा मीरा बाई को कष्ट दिए और मारने का प्रयास किया, आज उसी के नाम से राठोड़ो की शान है और मर गए मारने वाले मीरा बाई अमर हो गई. सं 1498 में जन्मी मीरा ने कृष्ण भक्ति की ऐसी मिसाल पेश की जो आज तक भक्तो के दिल में जगह कर गई.


मेड़ता ( नागौर) में जन्मी मीरा का विवाह चित्तोड़ के राजा भोज से हो गया, हालाँकि जब वो चार साल की थी तब एक शादी के जोड़े को देख उन्होंने माँ से पूछा की मेरा पति कौन होगा तो माँ ने कृष्ण के मूर्ति की तरफ इशारा किया और तब से मीरा पराई हो गई थी. परिवार के दबाव में उन्हें ये शादी करनी पड़ी. राव डूडा जो उनके पालक थे से उनका गहरा आध्यात्मिक लगाव था.
1521 में भोजराज की मृत्यु के बाद मीरा सिर्फ कृष्ण में ही रम गई, पर कहते है की गुरु बिन ज्ञान नहीं मिलता. मीरा को चित्तोड़ में रविदास जी ( जो की नीची जाती से थे) जैसा सद्गुरु मिला जिन्होंने मीरा की भक्ति को नई ऊंचाई दी. मीरा राजकुमारी और राजघराने की बहु वो भी विधवा होने के बाद भी सत्संग में जाने लगी और साधुओ के संग घूमने लगी. जब देवर आदित्य को ये पता चला तो वो आग बबूला हो गया, पहले उसने मीरा को क्रूरता से डराया धमकाया पर तब भी वो नहीं मानी तो उसे मेड़ता भेज दिया. वंहा पर भी मीरा ने अपनी भक्ति जारी रखी तब अभिमानी ने मीरा को वापस बुलवाया और मारने के कई प्रयास किये.

पहले उसने मीरा के कक्ष में भगवन को चढाने के लिए माला की जगह सर्प भिजवाया, जिसमे मीरा को माला ही दिखी और उसने उसे गले में पहन लिया. मीरा को भगवन का प्रसाद है कह कर विष भेजा गया मीरा ने उसे भी पी लिया और उसे हिचकी तक न आई. एक शेर को पिंजरे में धक कर के मीरा के कमरे में भेजा गया जब मीरा ने पिंजरे खोला तो उसमे सालगराम जी मिले( भगवन कृष्ण का बाल स्वरुप). 

फिर मीरा गुरु के कहने पर वृन्दावन गई पर कृष्ण नहीं मिले, मीरा के दक्षिण भारत में भी जाने के प्रमाण मिलते है. वृन्दावन में एक महाराज थे जो सिर्फ मर्दो से ही मिलते थे स्त्रियों को उनके दर्शन की आज्ञा नहीं थी. जब मीरा उनसे कृष्ण का पता पूछने गई तो उन्हें बहार ही रोक लिया गया. मीरा ने सन्देश भिजवाया की इस ब्रिज नगरी में सिर्फ कृष्ण ही पुरुष है बाकि सब उनकी गोपिया है ये सुनकर तुरंत गुरु ने मीरा को सादर बुला लिया, पर मीरा को वंहा भी कृष्ण का पता नहीं मिला.

कहते है की मीरा वापस अपने जन्म स्थान आ गई और वंही कृष्ण की मूर्ति के सामने नृत्य कराती मूर्ति में समां गई.  


Advertisement
Related Content

Son in law worst charges on ram-raheem! दामाद का खुलासा : अपनी मुंह बोली बेटी को भी कांच के महल में ले जाता था ठरकी राम-रहीम....

ठरकी बाबा रामरहीम के कुकर्मो और पापो की लिस्ट अब तो रोज लम्बी होती जा रही है, रोज नए खुलासे और कांड जगजाहिर हो रहे है! अब जमाई ने ऐसी बात कह दी है की शर्म भी...

A fort ghost ghosts where the evening begins what is the secret behind the terror एक ऐसा किला जहाँ शाम होते ही भुत प्रेतों का आतंक शुरू हो जाता है क्या है इसके पीछे का रहस्य, जानिए

आपने कई बार भूतो की कहानी सुनी होगी लेकिन आज भी हमारे देश में भुत जैसी कहानी और जगह है और उनमे से खास तो पर है वो जो ...

Know facts of sanatan religion! देवता और भगवान् के मायने होते है अलग अलग, जाने क्या है इनमे भेद?

तेतीस करोड़ देवता क्या भगवान् नहीं है, क्या होते है इतने देवता? त्रिदेव कौन है और निर्गुण क्या है? ये कुछ ऐसे सवाल है जो खासोआम को परेशान करते, जाने इनके जवाब?

 India Hindu temple in the year 800, which is a Muslim worship Pribar भारत का एक ऐसा मंदिर जिसकी 800 सालो से एक मुस्लिम परिबार पूजा करता है

भारत में आपने कई मंदिरो के बारे में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक, ऐसे मंदिर के बारे में बता रहा हु जहाँ कई सालो से एक मुस्लिम पुजारी पूजा करता है जाने .......

shakuni the master behind insulting of draupadi शकुनि ने करवाया था द्रौपदी का चीरहरण, लेकिन क्यों?

द्रौपदी का चीरहरण करवाने के पीछे कौरवो के मामा शकुनि का हाथ था, उसने ही दुर्योधन को द्रुअपदी द्वारा किये गए अपमानों की बातें याद दिला दिला के करवाया था पुरुवंश

 Here Mashum children forcibly dung is laid यहाँ माशूम बच्चो को गोबर जबरन लिटाया जाता है ! बजह जानकर चौक जाओगे

अनोख़ी परम्परा यहाँ माशूम बच्चो को जबरन गोबर में लिटाया जाता है ये ऐसी परम्परा कई बार जानलेवा भी हो सकती है जाने इस अनोखी परम्परा के बारे में यहाँ ऐसा क्यों होता

Sara ali shamed due to cash less ness Solid बेइज्जती : सलून में ऐसा क्या हुआ जो सारा अली को मुंह छिपा के भागना पड़ा...

फिल्मो में लॉन्चिंग के लिए बेक़रार सैफ अली खान की पूर्व पत्नी से बेटी सारा अली खान एक ऐसी स्तिथि में पड़ गई जो की बेहद शर्मनाक थी, घटना एक सलूम में हुई जिसके बाद

mythological women charactors want to end her life on death of there husband पौराणिक इतिहास की 3 पत्निया जो गर्भवती होकर भी होना चाहती थी सती, कौन हुई कामियाब?

महिलाओं को जितना सम्मान भारतीय संस्कृति में मिला है उतना कंही और नहीं, महिलाओं ने भी अपने को मिले इस सम्मान को हर कदम पे सही ठहराया है. आज जाने इतिहास 3 औरते

Bollywood celebrities caught drinking alcohol! बॉलीवुड सेलिब्रिटी जो की नशे में कुछ अजीब हरकते करते नजर आये...

किसी को दौलत का नशा चढ़ता है किसी को जवानी का तो किसी को हुस्न का, लेकिन जब बॉलीवुड पे शराब का नशा चढ़ता है तो वो क्या करते है. देखे कुछ ऐसे ही पिक्स जो की पोलखोल

shri krishna married his fathers cousins daughter to give pandva's force श्री कृष्ण ने की थी अपनी ही बुआ की बेटी से शादी!

वासुदेव सुतं देवम कंश चाणूर मर्दनम्, देवकी परमानन्दं कृष्णम वन्दे जगत गुरुम. गीता के इस श्लोक में भगवान को जगतगुरु इन्ही कर्मो के कारण माना गया है.

the mystery of sons of draupadi named panchali 5 पतियों में बांटी गई थी द्रोपदी, फिर कैसे पता चला पुत्रो का की कौन किसका है?

उन्होंने बताया पिछले जन्म का रहस्य के द्रौपदी ने शिव से की थी बलशाली पति की मांग जो की एक व्यक्ति में होना असंभव था इस पर महादेव ने दिया पांचाली बनने का वरदान.

Arjuna Karna 5 reasons which caused the defeat धनुर्धर कर्ण की अर्जुन के हाथों पराजय किन 5 कारणों के कारण हुई, पढ़िए

आप सभी को पता है की कर्ण कुंती का पुत्र हैऔर उसके पास काफी धनुवर्ण चालने का साहस भी था लेकिन वो युद्ध में कैसे हार गया! उसके पीछे यह 5 ...

why lord krishna and brother balarama fight with god of death? कृष्ण बलराम ने अपने बाल्यकाल में यमराज से क्यों किया था युद्ध?

भगवान कृष्ण और बलराम ने कंस का वध कर मथुरा वासियो को उसके अन्यायों से मुक्ति दिलाई, उग्रसेन जी को फिर से राजा बनाया गया था. लेकिन पुत्र से दूर रहने के बाद भी

Did you know who is ghost actually? गरुड़ पुराण: आपके ही परिवार के पूर्वज होते है ज्यादातर भुत प्रेत, जाने कैसे बचे कुप्रभावों से....

गरुड़ पुराण: आपके ही परिवार के पूर्वज होते है ज्यादातर भुत प्रेत, जाने कैसे बचे कुप्रभावों से....

an temple in rajasthan where byke is devoted वाहन चालकों के लीये अवतार है ये देव, होती है बुलेट की पूजा

जोधपुर से पचास किमी पर जोधपुर-पाली मेगाहाईवे पर चोटिला ग्राम के पास हैं। यहाँ पर एक पेड़ के नीचे बानी एक चौकी पर बन्ना कि तस्वीर रखी हैं, और ज्योत जलती रहती है

Epic Ramayana proofs at Srilanka! जय श्री राम: माता सीता के आंसुओ से बना तालाब, रावण का एयरपोर्ट आज भी है श्रीलंका में....

शास्त्रों की माने तो रामायण करीब 900000 साल पहले घटित हुई थी और महाभारत 5200 साल पहले जिसको न मानना है मत माने हम तो मानेंगे क्योंकि पग पग है साबुत मौजूद....

Where is Danish kaneria now a days? जिन्होंने स्पॉट फिक्सिंग की वो PCB के लिए खेल रहे है, जो निर्दोष था वो हिन्दू होने के चलते....

आजादी के 70 सालो बाद भी पाकिस्तान के लिए अब तक सिर्फ 3 अल्पसंख्यकों ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेली है, पहले हिन्दू थे अनिल दलपत ईसाई थे युसूफ योहाना जो अब धर्म

Girl reveal her experience of crime... रक्षाबंधन के दिन फलाहारी बाबा ने लगाया था मेरी इज्जत पर ग्रहण : पीड़िता

मर्दानगी के टेस्ट में पास होने के बाद फलाहारी बाबा को 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है, लेकिन अब मीडिया के हत्थे चढ़ गया है बाबा तो रोज नई खबरे आने..

what was the wife of pandu sati after her death क्या पाण्डु की पत्नी उसके मरने के बाद उसके साथ सती हुई थी!

शल्य माद्री के भाई थे दुर्योधन ने शल्य को अपनी तरफ से युद्ध करने के लिए राजी किया था वो भी छल से शल्य के सारथि थे पाण्डु की दूसरी पत्नी उनके साथ सती हो गयी थी

the story of hanumana's 5 head avtara: shravana special श्रावण पर विशेष, रूद्र अवतार हनुमान जी के पंचमुखी अवतार की कथा

शिव का महीना श्रावण चल रहा है और पहला सोमवार भी आके गया, इस मौके के विशेष पेश है शिव के अवतार हनुमान के पंचमुखी अवतार की कथा

lord done the thing due to love of there lover, which not suited to his height प्रेम के वश में होके भगवान कर चुके है ये छोटे काम भी!

भगवान अपने भक्तो पर सदैव ही दया और कृपा रखते है, भगवान इस धरती पर अनेकोनेक बार जन्म ले चुके है लेकिन चाहे वो किसी भी कुल में जन्मे हो भक्तो के लिए वो तुच्छ से

ashwathama sworm as army chief by dying duryodhana, made slaughter युद्ध की 18वीं रात में घंटो में, सो रही लाखों पांडव सेना का हुआ था संहार!

महाभारत के युद्ध में भी कई काली सच्चाइयाँ है, अठारहवें दिन कृपाचार्य ने युद्ध समाप्ति की घोषणा कर दी थी, कौरव सेना में अधमरे दुर्योधन के आलावा कृतवर्मा कृपाचार्

Sapna vyas got popularity from fake news! बीजेपी विधायक होने की फेक न्यूज़ से पॉपुलर हो गई ये लड़की, जाने आखिर कौन है ये?

असम की बीजेपी विधायक अंगूरी देवी के नाम से सोशल मीडिया में जो अफवाह फैली के लोकल मीडिया ने भी इसे सच मान लिया, बाद में जब सच सामने आया तो सबने माथा पिट लिया....

Duryodhana mistake if it does not replace the Kauravas and Pandavas could win the war अगर दुर्योधन नहीं करता गलती तो पांडवों की जगह कौरव जीत सकते थे युद्ध

महाभारत में दुर्योधन का साथ कर्ण ने दिया था ओर इधर कृष्ण ने पांडवो को इसके कारण यह युद्ध काफी दिनों तक चला था! इस युद्ध को कौरव जीत सकती थी लेकिन दुर्योधन ...