Advertisement

यहाँ माशूम बच्चो को गोबर जबरन लिटाया जाता है ! बजह जानकर चौक जाओगे

"अनोख़ी परम्परा यहाँ माशूम बच्चो को जबरन गोबर में लिटाया जाता है ये ऐसी परम्परा कई बार जानलेवा भी हो सकती है जाने इस अनोखी परम्परा के बारे में यहाँ ऐसा क्यों होता"

Advertisement

आपने कई अनोखी परम्पराओ के बारे  में सुना होगा लेकिन आज में आपको एक अनोखी परम्परा के बारे में बता रहा हु जिसके बारे में आपने कभी नही सुना होगा इनमे कई परम्पराए ऐसी होती है जो जानलेवा हो सकती है इस परम्परामे जबरन माशूम बच्चो को गोवर पर लिटाया जाता है इस तरह की परम्परा को बैतूल मनाया जाता है यहाँ ऐसा क्यों किया जाता है जाने इस अनोखी परम्परा के बारे में !


Image Source:  bhaskar.

यहाँ हर साल ग्वाल बाल मिलकर गोवर का एक गोवर्धन पर्वत बनाते है जिसे फूलो से सजाया जाता है उसके बाद यहाँ लोग इस पर्वत पूजा होने के दौरान लोग इस पर्वत के ऊपर अपने छोटे बच्चो को लिटाते है यहाँ बच्चो को जबरन इस गोवर्धन पर्वत पर लिटाया जाता है लेकिन इस परम्परा को लेकर डॉक्टरों का अलग मानना है डॉक्टरों की राय है की गोबर सक्रबटायफस जैसे कई खतरनाख बेक्टेरिया होते है !

अगर इन बेक्टेरिया का इन्फ़ेक्सन बच्चे के शरीर में फेल जाता है तो बो जान लेबा भी हो सकता है इन तथ्यों के होने के बावजूद भी जिले के मलेरिया कार्यलय में  ऐसा ही एक आयोजन हुआ था यहाँ शहर के बीचो बिच मलेरिया हॉस्पिटल शहर के बीचो बिच गोबर्धन बनाया गया यहाँ गोबर्धन की पूजा की गई थी यहाँ गोबर से गोबर्धन पर्बत बनाया गया था यहाँ इस पर्वत की पूजा की गई थी उसके बाद छोटे छोटे बच्चो को इस पर्बत के ऊपर लिटाया गया था !
Image Source:  scoopnest

यहाँ ले लोग इस पर्बत पर अपने बच्चो को इस लिए लिटाते है ताकि उनको किसी भी तरह की कोई बीमारी न हो ये परम्परा यहाँ सदियो से चली आरही है इस परम्परा को मानने बाले लोग अप्पने बच्चो को निरोगी रखने के लिए इस परम्परा को मानते है यहाँ के एक व्यक्ति ने बताया की यहाँ ऐसा नही है की यहाँ के लोग अशिक्षित हो यहाँ के लोग अशिक्षित नही है इसमें कई पड़े लिखे लोग भी है जो इस परम्परा को मानते है !
Image Source: bhaskar.

ये लोग पड़े लिखे है फिर भी ये लोग इस अन्धविस्वाश को मानते है इनका कहना है की गोवर में लिटाने से यहाँ कभी किसी बच्चे को नुकसान नही हुआ और इस गोवर के बारे में जैसा डॉक्टर्स कहते है बेसा कुछ देखने को नही मिला इसी बात को लेकर यहाँ के स्थानीय निवासी मनोज का कहना है की पहले की बात अलग थी लेकिन डॉक्टरों के मुताबिक इन दिनों घास फुस में सक्रबटायफस जैसे बेक्टेरिया होते है जो बच्चो के लिए जान लेवा हो सकते है !


इस लिया यहाँ के कुछ लोगो का कहना है की परंपरा पानी जगह रहे लेकिन यहाँ के बच्चो को जान पूछ कर बीमार के हबाले किया जाता है इस तौर तरीके में थोड़ा बदलाव करना होगा डॉक्टरों का कहना है की परम्पराओ और अंध बिश्वास के नाम पर और भी ऐसी कई परम्परा है जो लोगो के लिए जानलेवा सावित हो रही है इस लिए ऐसी जान लेवा परम्पराओ से बचना चाहिए !


Advertisement
Related Content

These measures will be your desire to keep the entire Hanuman happy इन उपायों से आपकी मनोकामना होगी पूरी हनुमानजी को रखें खुश

आप हनुमान जी के मंदिर में कई बार देखा होगा की मंगलवार को ज्यादातर लोग जाते है! हनुमान जी हर संकट से निकलने के लिए अपने भक्त के ...

two parts boy आखिर कौन था दो हिस्सों में बटा हुआ बालक

भगवन श्रीकृष्ण ने बाल्यकाल से युवावस्था तक कई लीलाई की उन्होंने कई बार जरासंध जैसे वीर को कई बार अपने विवेक और बल से हराया यह एक द्वापर युग की बात है

know facts about Uniform Civil code in Goa! गोवा में तीन तलाक और बहु-विवाह पर लगा प्रतिबन्ध!

हालही में तीन तलाक की बढ़ती घटनाओ के चलते ये मामला काफी सुर्खियों में है, उच्च न्यायलय में भी सुनवाई चल रही है अगले महीने फैसला भी आ सकता है, लेकिन गोवा में तो..

the secret behind tirupati temple and srinivasa berth यशोदा की कृष्ण का विवाह न देख पाने की इच्छा के फलस्वरूप हुआ तिरुपति अवतार!

एक बार धरती पर प्रमुख ऋषि मुनियो का सत्संत हुआ, जिसमे नारद समेत सप्तऋषि भी सम्मिलित थे उस दिन परिचर्चा नारद ने ये करा दी की तीनो देवो में श्रेष्ठ कौन है?

krishna janmashthmi is coming, maharashtra celebrate it as dahihandi क्यों गौ शाला में कराया गया था कृष्ण बलराम का नामकरण संस्कार?

इस वर्ष 5 सितम्बर को श्री कृष्ण जन्माष्टमी है, वैसे तारीख की बात करे तो विकिपीडिया के हिसाब से उस समय ये 18 जुलाई को पड़ी थी लेकिन भारत में हिन्दू केलिन्डर की

ganesh chaturthi will be celebrated all over india आज भी जारी हैं ये आजादी की लड़ाई के रूप में शुरू की गई गणेश पूजा की मुहीम!

जब भारत देश ग़ुलाम था तो अंग्रेजो ने आजादी की मुहीम कमजोर करने के लिए लगाई थी बंदिशे, लोग झुण्ड में नही कर सकते थे बात रात में भी और दिन में भी लगाते थे धारा 144

when bhrigu rishi examined the 3 deity जब भृगु ऋषि ने मारा, शेष शैय्या पर सोते भगवान विष्णु की छाती में पैर

जब एक रक्षस समुद्र तल में जा छुपा था तो भगवान शिव के कहने पर भृगु ऋषि ने पूरा सागर ही गटक लिए था, तो ऐसे ऋषि ने ऐसा काम भला क्यों किया?

the simplest lord in all gods, lord shiva bholenath चोरी करने के लिए शिवलिंग पर चढ़ गया चोर, भोलेनाथ ने दिया वरदान!

देवाधिदेव भोलेनाथ सब देवो में सर्वश्रेष्ठ तो है, उनके ऊपर श्रिस्टी के संहार और रक्षा की जिम्मेदारी भी है उन्हें भोलेनाथ यूँही नही कहा जाता है इसके पीछे उनका

from 14th day mahabharat war continue in night also महाभारत के 14 दिन से रात में भी लड़ा गया था युद्ध!

जब तेरहवे दिन अभिमन्यु को मरने में युद्ध के सारे नियम कायदे तोड़ दिए गए तो उसके अगले दिन अर्जुन ने लिया प्रण की वो जयद्रत को मार देगा अलगे के सूर्यास्त से पहले न

the legend of yudhishthara कर्ण का भतीजा युधिष्ठर, जमीन से चार अंगुली ऊपर चलता था रथ

बिलकुल अपने धार्मिक प्रताप के कारन ही युधिष्ठर का रथ हमेशा जमीन से चार अंगुलियों की ऊंचाई पर चलता था, जन्हा तक प्रश्न है कर्ण के भतीजे होने का तो युधिष्ठर

once arjun feel pride over being lord krishna's devotee get the treatment एक अहिंसक ब्राह्मण ब्राह्मण, क्यों हुआ नारद द्रौपदी प्रह्लाद और अर्जुन के खून का प्यासा?

एक बार अर्जुन को अहंकार हो गया कि वही भगवान के सबसे बड़े भक्त हैं। उनको श्रीकृष्ण ने समझ लिया। एक दिन वह अर्जुन को अपने साथ घुमाने ले गए.

apsaras lived in heaven and earth पृथ्वी पर रहती है अपसरा

पौराणिक ग्रंथो के अनुसार अप्सराए स्वर्ग में रहती है लेकिन यह कोई नहीं जानता की वह एक खास प्रयोजन से धरती पर भी आती है आखिर क्या है वो कारण

why lord krishana named bhakt vatsala भक्तवत्सल क्यों कहा जाता है श्री कृष्ण को

सच्चे दिल से भक्ति की भगवान ने उसे शर्मिंदा नहीं होने दिया चाहे वो किसी भी जाती धर्म सम्प्रदाय का हो महिला वृद्ध कुबड़ा अँधा यंहा तक के उनका शत्रु ही क्यों न हो

dhritrashtra make physical relation with an female servant and got a son आखिर किस वजह से अंधे ध्रितराष्ट्र ने एक दासी से बनाये शारीरिक सम्बन्ध?

हम और आप को तो उतना ही पता है जितना महाभारत की टीवी में दिखाया गया है, लेकिन इतिहास के पन्नो में जो दफ़न है उसके राज अगर खोलेंगे तो जरूर मिल जायेंगे आप को.

Recognition of what the serpent-worshiping? क्या मान्यता रही नाग की पूजा करने की ?

आप सभी को पता है कि नाग पंचमी के दिन नागो की पूजा की जाती है पर ये आपको नहीं पता होगा कि इसके पीछे क्या कारण रहा है.....

stambheshwar temple of lord shiva, made by his son दिन में दो बार हो जाता है ये मंदिर नजरो से ओझल

भगवन शिव का यह मंदिर जो चमत्कारिक है। स्तंभेश्वर नाम का यह मंदिर दिन में दो बार सुबह और शाम को अदृश्य हो जाता है.

Why one festival celebrated in India on 2 days? क्या आप जानते है, एक ही त्यौहार भारत में क्यों दो अलग अलग दिन मनाये जाते है?

जन्माष्ठमी को ही ले लीजिये इस बारी 14 और 15 अगस्त को है, ऐसे ही बहुतेरे भारतीय त्यौहार भारत में ही दो अलग अलग दिन मनाये जाते है! क्या आप बता सकते है ऐसा क्यों??

What is importance of Antim sanskara in hundutva! गरुड़ पुराण : मौत के बाद क्यों जल्दी रहती है लाश जलाने की, जाने क्या मायने है अंतिम संस्कार के?

हिन्दू धर्म में सोलह संस्कारो का विधान है जिसमे से सभी का महत्त्व है लेकिन जो अंतिम संस्कार है वो काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि तब मनुष्य मर चूका होता है! जाने ..

Yudhisthar hadnt loosed draupadi in game with kaurava's युधिस्ठर ने नहीं हारा था द्रौपदी को जुए में, फिर क्यों हुआ था द्रौपदी का अपमान?

अपने घर में या किसी सभा में हो सकता है ये आलोचना सुनी हो पांडवो की के उन्होंने अपनी पत्नी को जुए में डाव पर लगा दिया था, लेकिन क्या ये बात सही है! जाने सच को...

Indian Princess made a brave detective, completely exhausted Germany भारतीय राजकुमारी बनी एक जांबाज जासूस, थका दिया पूरी जर्मनी को

आपने कई महान लेखक या अन्य की कई सारी कहानी होती है जिसमे उनके पीछे का वर्णन होता है ऐसे ही एक यह सच्ची कहानी है नूर...

What caused the feet of Radha Krishna drank Crnamrit किस कारण से श्री कृष्ण ने राधा के पैरों का चरणामृत पिया

श्रीकृष्ण ने कई रास लीलाएं रचाई है जिनमे सबसे ज्यादा तो राधा के साथ में है, सब जानते है राधा और कृष्ण कि प्रेम कहानी को और ये सबसे ज्यादा और प्रसिद्ध जब हुई...

lord vishnu fail to kill two demon's after wrestle for 5k years 5000 साल युद्ध करने पर भी नही मार पाये थे भगवान विष्णु दो दानवो को!

बात लाखों वर्षो पूर्व की है जब धरती पर सिर्फ पानी ही व्याप्त था और भगवान विष्णु क्षीरसागर में शेष शैय्या पे गहरी नींद में सोये हुए थे. जब वो नींद में थे तो....

the only woman devotee of lord hanumana हनुमान जी की एकमात्र महिला भक्त की कहानी, क्या सुनी है आपने?

हालाँकि उसके नाम के बारे में कोई पुष्टि नहीं है, लेकिन भारत की लोक कथाओ में उसका वर्णन है जो की बजरंगी की एकमात्र महिला भक्त हुई थी. कथा कलियुग के प्रारम्भ...

krishna's unmarried mother's love fight ended in mahabharata कृष्ण की माँ देवकी पांडवो की दादी न बना सके तो भड़की बदले की आग, महायुद्ध से हुई शांत

कंस पड़ा पापी थे अपने बहिन जिससे उसे प्राणो से भी ज्यादा नेह था के विवाह के लिए भी उन्हें युद्ध करवा दिए जो जीतेगा उसी से कराया जाना था देवकी का विवाह.