जूही चावला की जगह अंतिम क्षणों में बदला गया नग़मा को, जाने महा सीक्रेट कारण

"धर्मेंद्र समेत कैयो ने छोड़ी तो अमिताभ को मिली थी ज़ंजीर लेकिन जब अंतिम क्षणों में तय की गई स्टारकास्ट को बदल दिया जाए तो इसका सख्त कारण होना चाहिए जाने रहस्य????"

image sources : youtube

फ़िरोज़ खान, संजय दत्त, मनीषा कोइराला और नग़मा स्टारर फिल्म यलगार 1992 में रिलीज़ हुई थी जिसका बरसाती गाना "आखिर तुम्हे आना है...." बड़ा पॉपुलर हुआ था. लेकिन क्या आप जानते है की इस फिल्म में ये गाना पहले जूही चावला पर फिल्माया जाना था?

फिल्म काफी हिट रही थी जिसमे दो बचपन के दोस्त एक दूसरे के कट्टर विरोधी हो जाते है बड़े होने पर और इसी का होता है यलगार. लेकिन इसके अलावा तब एक और खबर ने काफी सुर्खिया बटौरी थी और वो थी अंतिम समय में फाइनल हो चुकी जूही के स्थान पर नग़मा की एंट्री.

हालाँकि नग़मा भी बला की सी खूबसूरत थी भले ही मिस इंडिया जूही रही हो लेकिन उनका रुतबा भी कम था लेकिन निर्माता निर्देशक फ़िरोज़ खान के होने पर ऐसा बदलाव लोगो के शक की वजह था. फिल्म से पहले गांव की शूटिंग होनी थी और सेट पर अगली सुबह जब जूही की जगह नग़मा दिखी तो सब हैरान हो गए थे.

जाने क्या था कारण?????


image sources : youtube

असल में इस बदलाव का कारण एक फोन था जो फ़िरोज़ खान को आधी रात को आया था, फोन में कहा गया था की या तो जूही की जगह नग़मा को लो या अंजाम भुगतने को तैयार रहो. आनन फानन में फ़िरोज़ ने नग़मा को बुला लिया और सुबह ये नजारा देख पूरा सेट हतप्रद था.

खुलासा तब हुआ जब डॉन दाऊद इब्राहिम का गुरबा मुंबई पुलिस के हाथ लगा और उसने खुलासा किया की दाऊद के छोटे भाई अनीस ने वो फ़ोन किया था जिसके बाद फ़िरोज़ ने जूही को पलट दिया था. ये खौफ्फ़ था कभी डॉन का बॉलीवुड में जो अपनी मेहबुबाओ को देते थे फिल्मो में मौका.

वैसे डॉन से फ़िरोज़ और संजय के रिश्ते कभी छुपे नहीं है, इसी के चलते संजय दत्त गिरफ्तार हुए थे असल में उन्हें फ़िरोज़ खान ने ही डॉन से मिलवाया था जिसके बाद उनके घर पर हथियार मिले और वो गिरफ्तार हुए...

Share This Article:

facebook twitter google