इन भारतीय महिलाओ से मिलकर गर्व से सीना चौड़ा हो जायेगा आपका, जाने

"बॉलीवुड में एक्ट्रेस को सिर्फ ड्रेस पहन का एक्टिंग करनी होती है उनमे वो जज्बा नहीं होता जो असल में मेहनत से कोई पद पाने par होता है जो की पुरे समाज को गौरव....."

image sources : youtube

राजस्थान के बीकानेर में भारत रूस संयुक्त सेना अभ्यास हुआ था तब ये तस्वीर सामने आई थी जिसमे एक भारतीय महिला अफसर रुस्सियन सैनिको को बड़े ही कॉन्फिडेंस से इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) के बारे में समझा रही थी जिसकी सोशल मीडिया में काफी प्रसंसा हुई थी. 

महाजन फील्ड फायरिंग रेंज से ये तस्वीर सामने आई थी हालाँकि  महिला अधिकारी की पहचान तो सामने नहीं आई लेकिन महिला शक्ति की पहचान जरूर सामने आ गई भारत ही नहीं पूरी दुनिया के. भारत में वर्तमान केंद्र सरकार में अभी रक्षा मंत्री विदेश मंत्री टेक्सटाइल मंत्री बाल एवं महिला कल्याण विकास विभाग में महिलाये ही नियुक्त है.

सभापति नज्म हेपतुल्ला हो या राजस्थान बंगाल में मुख्यमंत्री हो देश की पीएम और राष्ट्रपति भी महिलाये रह चुकी है तो कई पार्टियों की राष्ट्रिय अध्यक्ष भी महिलाये थी या है. ऐसे में नारी शक्ति को कम आंख्ने की भूल न करे और जाने ऐसी कुछ और प्रेरणादायी महिलाओ के बारे में गर्व से चौड़ा कर रही है हर भारतीय का सीना.


image sources : youtube

भारतीय नौसेना की फ्लाइंग अफसर अवनी चतुर्वेदी फाइटर प्लेन अकेले उड़ाने वाली देश की पहली महिला पायलट बन गई हैं कर के खबर आपने मीडिया में देखि ही होगी. मध्‍यप्रदेश से ताल्‍लुक रखने वाली अवनी ने शायद ही कभी सोचा था कि वह एक दिन इतिहास रच देंगी. 

अकेले फाइटर प्लेन उड़ाने वाली पहली महिला फाइटर पायलट ने जब उस दिन गुजरात के जामनगर एयरबेस पर अकेले ही करीब 30 मिनट तक MiG-21 विमान उड़ाया था तो वो इतिहास रच गई थी.


image sources : youtube

30 वर्षीय ईरान हबीब कश्मीर से बिलोंग करती है और राज्य की पहली महिला निजी विमान चालक बन चुकी है जिनकी सोशल मीडिया में काफी चर्चा है.


image sources : youtube

स्वतंत्रता सेनानी प्रोफेसर रमाकांत सिनारी की बेटी है और उन्हें भारत की पहली महिला कमांडर बनने का गौरव हासिल है. सीमा पहली भारतीय महिला कमांडो ट्रेनर है उनके अब पति मेजर है जो की मार्टिकल आर्ट सिखाते थे और उनकी ही प्रेरणा से सीमा ने ये गौरव हासिल किया.


image sources : youtube

आईपीएस संजुक्ता पराशर की कहानी तो आप सोशल मीडिया में पढ़ ही चुके होंगे जिनसे नक्सली खौफ्फ़ खाते है और बंदी ने नक्सलवाद समाप्ति के लिए कमर कस रखी है.


image sources : youtube

कश्मीरी पुलिस की ये जवाब जिसकी पहचान तो पता नहीं लेकिन हाथ में पिस्तौल लिए आतंकियों में खौफ्फ़ पैदा जरूर कर रही है ये. शेयर जरूर करे ये महागाथा वीरांगनाओ की 

Share This Article:

facebook twitter google