Advertisement

गरुड़ पुराण: धर्म बदलने वाले बनते है प्रेत, फिर नहीं मिलता है मनुष्य जन्म...

"पैदा होकर मनुष्य को क्या करना चाहिए जिससे की उसकी मुक्ति (मोक्ष) हो ये उसे धर्म ही बताता है, कई लोगो को मजे की जिंदगी मिलती है तो कई दुःख ही भोगते है बस, जाने.."

Advertisement
दुनिया पैदा हुआ हर इंसान अपने कर्मो को भोगता है, जन्म के समय ही उसके नसीब में कितने सुख दुःख है कितना पैसा है कैसा उसका स्वस्थ रहेगा और तो और उम्र भी तय होती है! अपने कर्मो से वो नियत उम्र 100 वर्ष पुरे नहीं कर पाता है, अगर कर्म अच्छे करे तो 100 वर्ष जीवित रहना सम्भव है!

लेकिन उसकी किस्मत में सीधे तरीके से कमाए गए पैसे को वो नहीं बढ़ा सकता है, हो सकता है की पाप की कमाई से वो अपनी किस्मत बदल ले लेकिन तब भी सुख दुःख तो भोगने ही पड़ेंगे! कई लोग किसी विशेष जाती धर्म में जन्म कर दुसरो को अपने से बेहतर मानकर उनके धर्म या जाती में आकर्षित होते है और अपना धर्म बदल लेते है, लेकिन....


image sources: blogspot

अगर को अपना धर्म बदलता है तो उसका अंजाम बहुत बुरा होता है, वेदव्यास जी द्वारा लिखे गए 18 पुराण जो की वेदो के ही अंश है में लिखा है उन लोगो का अंजाम! साथ भी भगवान् कृष्ण ने गीता में भी अर्जुन को बताया है धर्म न बदलने के विषय में धर्म बदलने से होने वाले दुष्परिणामों के बारे में.

गीता में कृष्ण ने अर्जुन को कहा की मनुष्य को किसी भी सूरत में अपने धर्म (कर्तव्यों को) को नहीं छोड़ना चाहिए, अपने धर्म में मरने से सद्गति मिलती है जबकि दूसरे का धर्म भय ही देता है और कुछ नहीं! जबकि गरुड़ पुराण में इससे भी आगे बढ़ के इस विषय में और भी लिखा है. 


image sources: allindiaroundup

गरुड़ पुराण की माने तो अगर को मनुष्य स्वेच्छा से अपना धर्म बदलता है तो उसकी मुक्ति फिर नहीं होती है और मृत्यु के बाद वो प्रेत (बहुत पिशाच) हो जाता है और अखंड काल तक वो इसी रूप में तकलीफे भोगता है! इसका सीधा सा मतलब है की अगर आप इस जन्म में उपेक्षा भोग रहे है तो वो भी आपके कर्मो की वजह से.

हर मनुष्य को अपने कर्मो का फल भोगना ही पड़ेगा, क्योंकि कर्मो के फल का नाश भोगने से ही होता है धर्म बदलने से नहीं इसीलिए हर मनुष्य को अपने धर्म का ही पालन चाहिए हर कीमत पे.

story sources: garun puran shrimadbhagwat geeta

Advertisement
Related Content

dreams of rawan wont come true which he dreamed रावण के ऐसे ख्वाब जो पुरे न हो सके, क्या आप करेंगे पूरा?

प्रकांड पंडित, सभी शाश्त्रो का ज्ञाता रावण ब्राह्मण पिता से जन्म लेने के बाद भी माँ की राक्षसी प्रवर्तियो और नाना सुमाली की महत्वाकांक्षाओं के अहंकार में मारा ग

god would be boarn again क्या सच मे भगवान श्री कृष्ण एक बार फिर धरती पर जन्म लेने जा रहे है ?

कल्कि पुराण के अनुसार भगवन फिर से जन्म लेंगे कल्कि के चार हाथ होंगे और ब्रह्मा जी वायु देव को ये सन्देश भेजेंगे की वह मनुष्य रूप में रहे

how the pralaya started when its time to happen प्रलय से पहले ऐसे होती है प्रलय की शुरुआत, जान के खड़े हो जायेंगे रौंगटे.....

लगभग सवा चार अरब सालो में एक बार (4290000000 साल ) धरती पे प्रलय आती है, अभी लगभग दो अरब साल बीत चुके है जब प्रलय समाप्त हुई थी. इतना पुराण इतिहास बिल्कुस सही

dronachary named as fame guru but he was not the legend for respects अर्जुन को दिया वचन पूरा न कर सके द्रोण, लांघी सारी मर्यादाये!

अपने साले कृपाचार्य के बुलावे पर द्रोणाचार्य आये हस्तिनापुर और बन गए कुरुवंश के राजकुमारों के गुरु, पांडवो और कौरवो को दे रहे थे समान शिक्षा लेकिन अर्जुन की

Varun dhawan oops moment caught in camera! OMG जब वरुण ने खुद ही कर लिया अपना रायता, लोगो ने खूब ली थी फिरकी...

वरुण धवन बॉलीवुड के एक मात्र ऐसे एक्टर है जिनकी हर फिल्म हिट हुई है, हालही में आई जुड़वाँ2 भी हिट हो चुकी है. लेकिन फिर भी वो एक्ट्रेस की ही तरह कई गलतिया कर....

pregnant sita was not excluded by rama in fact, was an wrong myth श्रीराम ने नही किया था गर्भवती सीता का त्याग, तो क्या था कारण?

मर्यादा पुरुषोत्तम होते हुए भी भगवान राम की इसलिए आलोचना की जाती है की उन्होंने अपनी गर्भवती पत्नी को त्याग कर वन में भेज दिया था, लेकिन हक़ीक़त कुछ और है. क्या?

he got the blessing of his guru, to be served by almighty किस पुण्य कर्म की वजह से दबाये संदीपनी के पैर स्वयं भगवान कृष्ण ने

परम सत्य की जो आपके जीवन में अद्भुद प्रभाव ला सकता है, कथा उस गुरु की जिसने अपने सेवा और आदर भाव से वो पा लिया जिसके बारे में कोई कल्पना भी नहीं कर सक्ता है.

sadan kasai were guilty of cow murder from butcher गौ हत्या के दोषी सदन कसाई के कट गए थे हाथ

एक दिन यह गाय अपना बंधन तोड़कर भाग चली। कसाई गाय का पीछा करता दौर रहा था। भागते हुए एक व्यक्ति ने उसे पकड़ लिया और कसाई को सौंप दिया। गाय ने दूसरा जन्म लिया।

India made Jupiter king's illegitimate son as his heir, why? राजा भरत ने बृहस्पति के नाजायज पुत्र को क्यों बनाया अपना उत्तराधिकारी?

राजा भरत के पांच बेटे थे लेकिन फिर भी राजा ने अपने पुत्रो के बजाय बृहस्पति के नाजायज पुत्र विरथ को अपना उत्तराधाकारी बनाया क्योकि वह अपने पुत्रो को इसके योग्य

amazing facts of hindu callander you never know? हिन्दू वर्ष में होते है सिर्फ 354 दिन, फिर कैसे लगा लेते है सूर्यचन्द्र ग्रहण के सटीक समय का अनुमान?

हिन्दू कैलंडर के प्रत्येक महीने में साढ़े उन्नतीस दिन ही होते है फिर भी वो गृह दशाओ चन्द्र-सूर्य ग्रहण का बिलकुल सही समय का अनुमान लगा लेता है. आप सोच रहे होंगे

how much you know about king rawana रावण के थे 6 भाई, दो बहने, तीन पत्निया और सात पुत्र

दीपावली आने वाली है और हालही में दशहरा गया है जिस दिन भगवान राम ने रावण का संहार किया था, लेकिन आप कितना जानते है रावण और उसके परिवार के बारे में?

Pariniti hardly survived form oops moment दावते रिस्क: रियलिटी शो के स्टेज पर ही जब खुल गई परिणीति के स्कर्ट की जीप....

हालाँकि अब करियर काफी निचे है लेकिन जब हिट लिस्ट में थी परिणीति तो होते होते रह गया था उनके साथ ये हादसा, जाने आखिर कैसे बच्ची उनकी लुटती हुई इज्जत क्योंकि हो..

shrikhand Mahadev is much harder than amarnath the trip श्रीखंड महादेव की अमरनाथ से भी ज्यादा कठिन है यात्रा

आपने शिव जी के दर्शन के लिए अमरनाथ की यात्रा कर ली होगी! लेकिन देवताओ के तपस्थली हिमाचल में कुल्लू जिले में श्रीखंड महादेव मंदिर...

Krishna got angry on yudhisthar on giving boon to duryodhana! जलसमाधि लिए हुए दुर्योधन को युधिस्ठर ने दिया था ऐसा वरदान, जीती हुई बाजी हार जाते पांडव!

महाभारत के युद्ध की दोनों सेनाओ से 11 (दुर्योधन) लोगो को छोड़ सभी योद्धा मारे जा चुके थे और दुर्योधन जल समाधी में था, तब युधिस्ठर ने अतिविश्वास में कुछ ऐसा कर...

After all, the son of Karna Kunti's funeral in the hands of Krishna Why? आखिर कुंती पुत्र कर्ण का अंतिम संस्कार श्रीकृष्ण के हाथो में क्यों हुआ?

आपने महाभारत देखि होगी पर आपको पता है की कर्ण का अंतिम संसकर कहा पर हुआ था और कहा गया है की इनका संस्कार कृष्ण के हाथो में हुआ पर क्यों...

is it possible to teach your childs, in womb? अपने बच्चे को दीजिये गर्भ में ही शिक्षा, प्रह्लाद अभिमन्यु और अष्टावक्र की तरह!

हम सबने महाभारत रामायण और पुराणो की कहानिया तो सुनी है जिसमे ज्ञात तीन ऐसी घटनाओ का उल्लेख है, जब गर्भस्त शिशु को/ने जन्म से पहले ही गर्भसंस्कार दिए/लिए गए थे.

India is the world's longest wall विश्व की सबसे लम्बी दीवार है भारत में

विश्व की सबसे बड़ी दीवार के बारे में कोई पूछता है तो सबसे पहले चीन का नाम आता है जबकि इसके बाद वाली उसको कोई नहीं जनता! आपको बता दे की सबसे बड़ी दूसरी दिवार...

the shiest sage of mahabharat time who use to mat with animals महाभारत काल के 1 ऋषि, शर्म के चलते करते थे जानवर बन जानवरो संग मिलन!

भारत का पौराणिक इतिहास अजीब से अजीब घटनाओ से ओतप्रोत है जो दी दूसरी संस्कृतीयो के लिए काल्पनिक है लेकिन हमारे लिए वो हमारा ही इतिहास है. ऐसी ही एक घटना पेश है.

the secret behind singing the karpurgauram shloka after god's devotion कर्पूरगौरम.... शिव पार्वती के विवाह उपरांत विष्णु ने गायी थी ये स्तुति!

नवरात्रों का उत्सव देश भर में उत्साह से मनाया जा रहा है, सुबह शाम माता की आरती होती है पर आरती के अंत में एक स्तुति होती है जो की आरती के पश्चात ही होती है.

On Saturday to avoid the evil eye to these measures must वास्तव में बुरी नजर से बचने के लिए शनिवार को ये उपाय जरूर करें

यदि जीवन मे किसी को किस्मत से अधिक नहीं मिलता जबकि ऐसा भी होता है कई बार अन्य व्यक्तिओ के कारण...

 Pakistan began to fight among themselves the wonders of the Divine Mother जय माता दी: भारतीय सेना की चमत्कारिक छावनियां, कंही रक्षा करती है शहीद की आत्मा तो कंही स्वयं मातारानी!

इस मंदिर के पास आते ही पाक के नापाक इरादे फेल होजाते है क्योंकि ये देवी माँ का मंदिर ऐसा ही चमत्कारी है यहाँ पर कई चमत्कार हुए है जाने इस मंदिर के बारे में

Duryodhana who was forcefully married which Pandora कौन थी भानुमति जिससे दुर्योधन ने जबरदस्ती शादी की थी

भानुमति काम्बोज के राजा चंद्रवर्मा की पुत्री थी राजा ने उससे विवाह के लिए स्वयंवर रखा जब भानुमति हाथ में माला लेकर अपनी दसियों और अंगरक्षक के साथ आगे बढ़कर

gau karna son of atmdev speech bhagwata to free his brother from ghost berth 5 पत्नियों ने कर दी हत्या तो बना प्रेत, बांस में छुप सुनी भागवत तो मिली मुक्ति!

तुंगभद्रा नदी के किनारे एक समझदार ब्राह्मण रहता था नाम था आत्मदेव, वो पूर्ण रूप से संपन्न थे उनकी शादी एक सुन्दर कन्या से हुई जिसक नाम था धुन्वति.

story of demon analasur and lord ganesha मार न सके तो निगल गए भगवान गणेश इस दैत्य को!

ब्रह्मा से वरदान पा एक दानव जिसका नाम था अनलासुर था सम्पूर्ण लोकों में उत्पात मचाने लगा, वो अग्नि पर काबू पा चूका था और वरदान ये था की पहली कभी न हुआ. fullstory