Advertisement

चाणक्य कह गए थे धर्म हिंसा सिखाता है तो उसे छोड़े मुस्लमान और हिन्दू

"राष्ट्रों में आंतरिक हिंसा जारी है, इस समय के लिए भी आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में उपाय सुझाये है, उनका कहना था की जो धर्म दया नहीं सिखाता उसे छोड़ देना चाहिए."

Advertisement
आज के समय में जब राष्ट्रों में आंतरिक हिंसा जारी है, मसल लोग मारे जा रहे मारने वालो को भी नहीं पता की वो क्या कर रहे है. इस समय के लिए भी आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में उपाय सुझाये है, उनका कहना था की जो धर्म दया नहीं सिखाता उसे छोड़ देना चाहिए.
आज के समय में मुसलमानो को बचपन से ही कट्टरता का पाठ पढ़ाया जा रहा है, उन्हें हिंसा के लिए उकसाया जा रहा है अबोध बालको से भी क़त्ल करवाये जा रहे है. ऐसे समय में मुसलमानो को चाहिए की वो इस्लाम छोड़ कर अपना दूसरा धर्म बनाले जो उन्हें हैवनियां न सिखाये, बल्कि इंसानो को इंसानो से प्यार करना सिखाये. 

आचार्य ने अपने नीतिशास्त्र में और भी कई ऐसी चीजो को छोड़ने के बारे में लिखा है जो आपसे जुडी हुई है. उसमे पत्नी भी शामिल है, 
पति-पत्नी का रिश्ता कई जन्मों का माना जाता है। उन्हें जीवन रथ के दो चक्र कहा गया है। चाणक्य कहते हैं कि अगर पत्नी हमेशा गुस्सा करे, घर में चिंता और फसाद का वातावरण बनाए रखे, पति को अपमानित करे तो ऐसे हालात में रहने से बेहतर है कि दोनों अलग हो जाएं। 
तनाव भरे माहौल में रहने से दोनों ही दुख भोगते हैं। अतः ऐसी परिस्थिति में रिश्ते को समाप्त कर देना ही उत्तम रहता है।
गुरु या शिक्षक को भी आचार्य ने नहीं बक्शा है, गुरु पर अपने शिष्य के वर्तमान और भविष्य की जिम्मेदारी होती है। अगर गुरु के पास ज्ञान न हो, तो ऐसी स्थिति में वह स्वयं के साथ ही शिष्य का भविष्य भी बिगाड़ सकता है। अतः अज्ञानी गुरु का साथ छोड़ देना चाहिए।
जो रिश्तेदार दुख के क्षण में साथ छोड़ जाएं, जहां अपनापन नहीं, ऐसे लोगों का साथ व्यर्थ होता है। मनुष्य की भलाई इसी में है कि वह अवसरवादी रिश्तेदारों और केवल सुख के साथी भाई-बहनों का त्याग कर दे। ये लोग दुख में साथ न देकर उसे और बढ़ा सकते हैं।

Advertisement
Related Content

Why feast on death done? गरुड़ पुराण: हरयाणा पंचायतो ने लगाया मृत्युभोज पर प्रतिबन्ध, लेकिन आखिर क्यों किया जाता है मृत्युभोज?

हालही में आपने न्यूज़ देखि होगी जिसमे हरयाणा की कुछ पंचायतो ने बुजुर्ग की मौत पर होने वाले मृत्युभोज पर प्रतिबन्ध लगा दिया था, लेकिन आखिर ये होता ही क्यों है???"

How Ashawatthama killed sleeping pandava army? स्वयं रूद्र कर रहे थे पांडवो के शिविर की रक्षा, फिर कैसे किया था अश्वत्थामा ने सोती हुई सेना का संहार?

दुर्योधन की जंघा टूटने पर वो अकेला रणभूमि में पड़ा था तब कृतवर्मा कृपाचार्य और अश्वत्थामा उसके पास गए और दुर्योधन ने ड्रोन पुत्र को सेनापति बनाया तब हुआ नरसंहार

some bad habits who effect you future कुछ गन्दी आदते भी लगाती है आपके भविष्य पर ग्रहण

भारतीय ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसी आदतो का जिक्र है जिनके चलते आपसे विशेष गृह रुष्ट से अतिरूष्ठ हो जाते है, तो अपनी आदते बदलिये और अपने भविष्य को उज्जवल बनाइये.

laxman the great server of rama dint sleep in exile time  वनवास के 14 वर्षो में नही सोये थे लक्ष्मण, उर्मिला ने ली हिस्से की नींद!

रामायण के अभी इतने रहस्य अनजाने है की हम लोग आश्चर्य चकित हो जाते है, जब राम लक्ष्मण भारत शत्रुधन का जन्म हुआ तो चारो भाइयो में से शुरू में रोने के बाद

the story of hanumana's 5 head avtara: shravana special श्रावण पर विशेष, रूद्र अवतार हनुमान जी के पंचमुखी अवतार की कथा

शिव का महीना श्रावण चल रहा है और पहला सोमवार भी आके गया, इस मौके के विशेष पेश है शिव के अवतार हनुमान के पंचमुखी अवतार की कथा

astro measure for laxmi puja ये छोटा-सा उपाय करेंगे तो मिल सकती है लक्ष्मी कृपा

महालक्ष्मी की प्रसन्नता से परिवार में समृद्धि बनी रहती है। हम अभी आपको बताने जा रहे हे पूजा के कुछ बढ़िया उपाय, जिनके वख से लस्मी माँ आप से प्रस्सन हो सकती है !

Who more than he loved Draupadi? वो कौन है जो द्रौपदी से अधिक प्रेम करता था ?

सभी को पता है कि द्रोपती कि शादी पांचो पांडवो से हुई थी पर ये सभी के साथ में रहती थी, पर ये इनमे से भी एक था जो द्रोपती को अधिक प्रेम करता था....

shishupal cousin brother of lord krishna killed by him सतयुग में था भक्त का पिता, द्वापर में था भाई फिर भी मार डाला भगवान ने उसे

भगवान की लीला भी अजीब है कभी वो अपने ही भक्त के पिता को मारते है तो कभी अपने ही भाई को, पर भगवान के हाथो मरते ही व्यक्ति का मोक्ष तय हो जाता है.

how krishna and yaduvansh died after mahabharat war कैसे हुआ कृष्ण और यदुवंश का अंत, दर्दनाक कहानी!

भगवन कृष्ण के 16108 रानिया थी आठ मुख्य रानियों से दस पुत्र हर एक से थे तो फिर उनके वंश का क्या हुआ ये बात विचार का मुद्दा है, इस का जवाब मौसला पर्व में छुपा है.

Zareen khan amazing change over! कभी आलू की बोरी कहते थे सभी, अब बिंदास गर्ल बन चुकी है ज़रीन...

क्या आप यकीन करेंगे के ऐसी दिखने वाली ज़रीन को बॉलीवुड में एंट्री मिल सकती है, लेकिन आपको ये जान के और भी आश्चर्य होगा की ज़रीन को अपनी पहली ही फिल्म के लिए अपना.

Amitabh's top 5 controversies! अमिताभ बच्चन के पांच चर्चित विवाद जिनसे घट गया अमिताभ का कद..

जिंटा लम्बा करियर उतने ही विवाद, हालाँकि अमिताभ बहुत कम ही विवादों में रहे है लेकिन इस धंधे में सब बदनाम है! जाने अमिताभ के चुनिंदा विवाद जो बने बदनामी की वजह..

architectural tips for marital peace वेहवाहिक जीवन में हो रहे झगड़े, तो यह उपाय अपनाए शयन कक्ष और बेड पर

वैसे तो पति पत्नी के बीच छोटी मोटी अनबन और झगड़े थोड़ी आम बात हे, मगर ध्यान रखे के ये कंही जयादा ओ नहीं हो रहा ! यह उपाय शयन कक्ष और आपके बेड पर आजमा सकते हैं।

garud puran and ramayana says hard work taking with whom ढोल गंवार क्षुद्र पशु नारी सकल ताड़ना के अधिकारी क्या है इस के मायने

ऐसे 5 लोग व चीजें, जिनके साथ कठोर अनुशासन जरूरी है अन्यथा वे हमारे मनमाफिक परिणाम नहीं देते। यदि इनके साथ नरमी से बात करेंगे तो ये आपकी बात कभी नही मानेंगे।

Garuda Purana states would sooner die than working 4 गरुड़ पुराण में कहा गया है 4 काम करने से आएगी जल्दी मृत्यु

गरुड़ पुराण के बारे में लोगों में यह भ्रांति है कि इसमें सिर्फ मृत्यु के पश्चात होने वाली घटनाओं का ही उल्लेख है। इसी के अनुसार मृत्यु जल्दी ना...

Wet Monday tradition of Ukraine! पाप धोने के नाम पर सोमवार को यंहा लड़के करते है लड़कियों से बदतमीजी..

भारत में सोमवार का व्रत एक बेहद प्राचीन परम्परा रही है लेकिन क्या आप जानते है की सोमवार को कई देशो में पाप धोने के नाम पर लड़कियों से की जाती है बदतमीजी? जाने???

Amazing facts about Indian Freedom! 15 अगस्त को जापान ने अंग्रेजो के सामने सरेंडर की घोषणा की, इसलिए हमें मिली इसी तारीख को आजादी!

भारत की आजादी को सात दशक से हो चले है, देश अब भी विकास के लिए अग्रसर है और इतिहास भूल चुका है! अगर आपको लगता है नहीं भूले है तो पढ़े आजादी के बारे में ऐसे फैक्ट्

lord rama killed an gandharva princess, daughter of suketu श्रीराम ने मारा था एक गन्धर्व कन्या को, लेकिन क्यों?

महिलाओ को मारना शाश्त्रो में बताया गया एक घोर पाप कर्म है लेकिन फिर भी भगवान राम ने एक गन्धर्व राजकुमारी जो हालाँकि श्रापित थी मारा था. जाने पूरी घटना....

What makes a tree brought conflict between Indra and Krishna क्या एक वृक्ष बना इन्द्र और श्री कृष्ण के बीच युद्ध का कारण

पारिजात वृक्ष पुरे भारत में पाये जाते है इनमे कई गुण होते है इसको चुने मात्र से ही सारी थकन दूर हो जाती है ये वृक्ष १० फिट से २५ फिट तक उचे होते है

Secret pikcs of radhe maa untold story दासी से रानी बनी राधे माँ, टीवी सिनेमा बीजेपी से जुड़े लोग है भक्तो में शुमार..

राम रहीम को सजा होने के बाद आज कल मीडिया में जोर है धूर्त बाबाओ और माँओ का, राधे माँ की चर्चा इसमें सबसे ऊपर है क्योंकि अतीत में भी वो लपेटे में आ चुकी है ड्रेस

Silly mistake in sholay, you hadnt noticed! Silly Mistake in Sholay: जब गांव में बिजली ही नहीं थी, तो टंकी में पानी कैसे चढ़ता था?

मुद्रास्फीति और करेंसी से अगर गणना करे तो बाहुबली नहीं बल्कि शोले भारत की हर लिहाज से नंबर एक फिल्म है, फिल्म की सफलता इस बात से साबित होती है की 1 साल तक हाउस

Today's super star saw in cameo of bollywood movie! डांस की गीता माँ आज है टॉप फ़िल्मी कोरिओग्राफर, पर कभी देखे थे ऐसे दिन भी....

डांस के रियलिटी शो में जज बन कर आज जो सुर्खिया बतौर रही यही वो ही गीता माँ (कपूर) कभी ऐसी दिखती थी, सब को सितारों की चमक दिखती है लेकिन वक्त ने कितना रगड़ा है...

worship covered head Mind spiritiual इसलिए जरुरी हे सिर को ढकाना पूजा के समय जानिये क्यों ?

अक्सर देखा जा सकता हे की किसी भी धर्म से जुडी स्त्रियां पूजा पाठ करते समय अपने सिर पे दुपट्टा या साड़ी के पल्लू को हमेशा डाले रखती हैं।

Was the sister of Lord Shiva to the angle ! भगवान् शिव की बहिन कौन थी जाने?

सायद आपको ये पता नही होगा की भगबान शिव की बहन कोण थी और उसका क्या नाम था कई लोग तो ऐसा कहते है की उनकी कोई बहन ही नही थी लेकिन ये सच है उनकी एक बहन थी जिसका...

What was born from the blood of Lord Vishnu Shipra river क्या शिप्रा नदी भगवान विष्णु के रक्त से उत्पन्न हुई थी

उज्जैन की शिप्रा नहीं जहाँ हर १२ वर्ष बाद सिहस्थ कुम्भ का आयोजन किया जाता है कुम्भ विश्व का सबसे बड़ा मेला है शिप्रा नदी भगवान विष्णु के रक्त से उत्पन्न हुई थी